फरीदाबाद पुलिस ने सरकारी पानी चुराने वालों की जांच शुरू की

फरीदाबाद। थाना सूरजकुंड पुलिस ने उन लोगों की जांच शुरू कर दी है, जिनके खिलाफ सरकारी ट्यूबवैल का पानी चुराने का आरोप लगा है।

Faridabad police begins investigation of government water stealers

Faridabad. Surajkund police station has started investigating those who have been accused of stealing water from the government tubewell.

हरियाणा के गुप्तचर विभाग ने सूरजकुंड थाने में एक शिकायत की थी कि अनंगपुर निवासी इंद्रपाल और रनजीत अपने मोहल्ले में लगे सरकारी ट्यूबवैल का पानी टैंकरों में भरकर बेचते हैं। पानी के ये अवैध टैंकर रनजीत की मिलीभगत से बेचे जा रहे हैं, क्योंकि रनजीत को इंद्रपाल प्रति टैंकर पैसे दे रहा है। इस तरह सरकारी ट्यूबवैल से पानी अवैध रूप से भरवाकर गैर कानूनी कार्य किया जा रहा है।

पुलिस जांच के दौरान उत्तरवादियों ने बताया कि करीब 8-9 महीने पहले उनके मोहल्ले में एक ट्यूबवैल लगाया गया था। पानी की आपूर्ति के लिए ट्यूबवैल गली में खुला चल रहा था। पानी में बहुत ज्यादा रेत था। पानी पीने लायक और घरों में आपूर्ति के लायक नहीं था। इस कारण खराब पानी को टैंकर में भरकर पेड़-पौधों और पशुओं के लिए भर लिया था। इसकी गांव के कुछ लोगों ने नगर निगम में शिकायत कर दी थी। नगर निगम के अधिकारी मौके पर आए थे और उत्तरवादियों को पानी भरने से मना कर दिया था।

अब सूरजकुंड थाने के एसएचओ ने अगली कार्रवाई के लिए नगर निगम से इस संबंध में रिकार्ड मांगा है।

एसएचओ ने यह रिकार्ड मांगा

उत्तरवादियों के डोमका मोहल्ला में लगाए गए ट्यूबवैल के आदेश की एक प्रति उपलब्ध करवाई जाए। अगर नहीं लगाया गया है, तो उसकी लिखित रिपोर्ट की जाए।

ट्यूबवैल यदि लगाया गया था, तो क्या उसे खुले में चलाया गया था। इसकी रिपोर्ट दी जाए।

यदि नगर निगम में इंद्रपाल और रनजीत के खिलाफ कोई शिकायत प्राप्त हुई है, तो उसकी एक प्रति उपलब्ध करवाई जाए।

ऐसी किसी शिकायत पर कार्यवाही की एक प्रति उपलब्ध करवाई जाए।

मौके पर जांच के लिए कौन-कौन अधिकारी गए थे, उनके मोबाइल नंबर दिए जाएं।

उपरोक्त प्रकरण में कोई अपराध हुआ है, तो अधिनियम और धारा बताई जाए।

 

 

Related posts

Leave a Comment