फरीदाबाद में पानी की किल्लत पर बरसे पार्षद, मेयर ने तलब किए चीफ इंजीनियर और एसई

फरीदाबाद। शहर के कई वार्डों में पानी की किल्लत को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। सोमवार को भाजपा और विपक्ष के पार्षद एकमत होकर मेयर सुमन बाला से मिले और उन्होंने अधिकारियों को बुलाकर पेयजल किल्लत का समाधान करवाने की मांग की। मेयर ने चीफ इंजीनियर टीसी शर्मा और एसई बीरेंद्र कर्दम को बुलाया। पार्षदों ने अधिकारियों को खूब खरी-खोटी सुनाई।

Councilor lashed out on water shortage in Faridabad, Mayor summoned Chief Engineer and SE

Faridabad. There has been an outcry over the water shortage in many wards of the city. On Monday, BJP and Opposition councilors met Mayor Suman Bala unanimously and called the officials and demanded a solution to the drinking water shortage. The mayor called in Chief Engineer TC Sharma and SE Birendra Kardam. Councilors heard a lot of scolding of the officials.

दरअसल पार्षद ललिता यादव के वार्ड में लोग जलापूर्ति को लेकर काफी परेशान हैं।

लोग हर रोज पार्षद को घेरकर इस बारे में जवाब मांगते हैं।

सोमवार को ललिता यादव मेयर दफ्तर पहुंची और उन्होंने अन्य पार्षदों को भी वहां बुला लिया।

पेयजल किल्लत सर्वाधिक दक्षिण-पश्चिमी शहर में है। इसलिए पार्षद भी इन्हीं क्षेत्रों से पहुंचे।

बैठक में पार्षद दीपक यादव, दीपक चौधरी, सुरेंद्र अग्रवाल, बीर सिंह नैन, ललिता यादव, जयवीर खटाना, समाजसेवी कविद्र चौधरी, राकेश गुर्जर तथा अजय सिंह मौजूद रहे।

इन सभी पार्षदों ने बताया कि केवल ललिता के वार्ड में ही नहीं, उनके वार्डों में जलापूर्ति की स्थिति संतोषजनक नहीं है।
पार्षदों ने मेयर से सख्ती से कहा कि इसी समय आला अधिकारियों को बुलाया जाए।

पार्षदों का रौद्र रूप देखकर मेयर ने चीफ इंजीनियर टीसी शर्मा और एसई बीरेंद्र कर्दम को तलब किया।

अधिकारी जलापूर्ति के लिए इस योजना और उस योजना की दुहाई देने लगे।

इस पर पार्षद कुपित हो गए और उन्होंने जमकर अधिकारियों को खरी-खोटी सुनाई।

पार्षदों ने कहा कि योजनाएं जब बनेंगी और पूरी होंगी, तब की तब देखी जाएगी। उन्हें अपने वार्डों में हर हाल में पानी चाहिए।

महापौर सुमन बाला ने उसके बाद निगमायुक्त यश गर्ग से बात की कि कम से कम एक्सईएन को 10 लाख रुपए तक की शक्तियां दी जाएं, ताकि वे ट्यूबवैलों और जलापूर्ति में आने-आने व्यवधानों को रोकने के लिए तत्काल मरम्मत या रिप्लेसमेंट करवा सकें।

 

Related posts

Leave a Comment