हरियाणा के निर्दलीय विधायकों की गुप्त बैठक, खट्टर सरकार पर बनाया दबाव

पंचकूला। हरियाणा में राजनीतिक के कारक ग्रह मंगल के दिन अचानक सरगर्मी बढ़ गई। राज्य के निर्दलीय विधायकों ने एक गोपनीय बैठक की। बैठक का एजेंडा खट्टर सरकार पर दबाव बनाना था। सूत्रों के अनुसार बैठक के बाद सभी विधायकों मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से भी मिलने का इरादा है।

Secret meeting of Independent MLAs of Haryana, pressure put on the Khattar government

Panchkula. On the day of Mars, the political factor in Haryana suddenly increased. Independent MLAs of the state held a confidential meeting. The agenda of the meeting was to pressure the Khattar government. According to sources, after the meeting, all the MLAs intend to meet Chief Minister Manohar Lal Khattar as well.

यह गोपनीय बैठक पंचकूला के सेक्टर 12ए स्थित एक भवन में हुई।

इस बैठक में पृथला के विधायक नयनपाल रावत, पूंडरी के विधायक रणधीर गोलन, नीलोखेड़ी के विधायक धर्मपाल गोंदर, चरखी दादरी से विधायक सोमवीर सांगवान, बादशाहपुर से विधायक राकेश दौलताबाद व जजपा के विधायक जोगीराम सिहाग मौजूद रहे।

निर्दलीय विधायकों की सरकार में बेहतर हिस्सेदारी की इच्छा रहती है। खासतौर से तब, जब सरकार

सूत्रों के अनुसार कुछ निर्दलीय विधायक अभी प्रभावशाली पदों पर तो हैं, लेकिन वे ज्यादा प्रभावशाली पद चाहते हैं।

इस समय किसान आंदोलन चल रहा है और सरकार के तमाम आश्वासनों और प्रस्तावों के बावजूद वे मान रहे हैं।

इसलिए केंद्र और राज्य सरकार भारी दबाव में हैं।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला भी किसान लॉबी से प्रभावित हैं और इस्तीफा की चेतावनी दे चुके हैं।

अब निर्दलीय विधायकों ने बैठक की है।

बैठक में किसान आंदोलन पर चर्चा हुई, जिसमें निर्दलीय विधायकों ने तय किया कि उन्हें भी क्षेत्र के लोगों को जवाब देना है। इसलिए सरकार से कहा जाए कि वे किसान आंदोलन का शीघ्र समाधान करें।

समझा जाता है कि बैठक के बाद विधायक मुख्यमंत्री खट्टर से भी मिलेंगे।

 

Related posts

Leave a Comment