विजय प्रताप सिंह ने कॉलोनी के लिए एससी में दायर की याचिका

फरीदाबाद। पूर्व मंत्री महेंद्र प्रताप सिंह के पुत्र एवं बड़खल क्षेत्र से पूर्व कांग्रेसी प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह ने जमाई कॉलोनी में तोड़फोड़ रुकवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।

Vijay Pratap Singh filed a petition in SC for the colony

सुप्रीम कोर्ट ने अरावली क्षेत्र में अवैध कॉलोनियों और अवैध निर्माणों को हटाने का आदेश दिया है।

इसी के मद्देनजर जमाई कॉलोनी में तोड़फोड़ की तलवार लटकी हुई है।

जमाई कॉलोनी बड़खल संस्था के लोग विजय प्रताप सिंह से पिछले दिनों मिले थे और उन्होंने राहत दिलाने की मांग की थी।

विजय प्रताप सिंह ने सभी कॉलोनियों के लिए उचित संघर्ष करने का आश्वासन दिया था। इसी क्रम में उन्होंने जमाई कॉलोनी के लोगों के साथ मिलकर अब सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।

विजय प्रताप सिंह ने बताया कि नगर निगम सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मद्देनजर जमाई कॉलोनी में तोड़फोड़ करना चाहता है। किंतु उन्होंने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में ही याचिका दायर कर दी है।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सिंह ने बताया कि जमाई कॉलोनी सरकारी जमीन पर नहीं बसी हुई है। यह बड़खल का रकबा है और लोगों ने निजी मिल्कियत पर गुजारे के लिए मकान बनाए हुए हैं। इसलिए इस कॉलोनी को उजाड़ने के बजाय अन्य कॉलोनियों की भांति इस कॉलोनी को भी अधिकृत किया जाए।

उन्होंने कहा कि कई कॉलोनियां निजी मिल्कियत पर बनी हैं और उन्हें अधिकृत कर दिया गया है, तो इस कॉलोनी को मंजूरी क्यों नहीं मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे सुप्रीम कोर्ट में मांग करेंगे कि हरियाणा सरकार को निजी मिल्कियत पर बनी इस कॉलोनी को भी अधिकृत करने के आदेश दिए जाएं।

 

 

Related posts

Leave a Comment